२०१६ का मानसून लंबी अवधि जून से सितंबर चार महीने की अवधि के लिए औसत 887 मिमी (ए(+/- 4% की एक त्रुटि मार्जिन के साथ) 105% पर सामान्य से ऊपर रहने की संभावना है

monsoon 2016क्षिण पश्चिम मानसून केरल के रास्ते देश में इस माह के अंत तक प्रवेश कर सकता है। आमतौर पर 1 जून को आने वाला मानसून इस बार कुछ दिन पहले ही प्रवेश का अनुमान मौसम की जानकारी देने वाली निजी कंपनी स्काईमेट जता रही है। यह मानसून जून से सितंबर तक के लिए सक्रिय रहता है।

स्काईमेट के मुताबिक मई 18 और मई 20 के बीच मानसून अंडमान और निकोबार तक पहुंच जाएगा। उसके बाद ही मानसून केरल में प्रवेश करेगा। इसी बीच भारत के नार्थईस्ट इलाकों पर भी मानसून छाने की उम्मीद है। मानसून 2016 के लंबी अवधि जून से सितंबर चार महीने की अवधि के लिए औसत 887 मिमी (ए(+/- 4% की एक त्रुटि मार्जिन के साथ) 105% पर सामान्य से ऊपर रहने की संभावना है ।

कहाँऔर कब तक पहुंचेगा मानसून:

१८ से २ मई के बीच अंडमान निकोबार
२८ से ३० मई तक केरल
२ जून तक कोलकाता
१२ जून तक मुंबई
१ जुलाई तक दिल्ली
१२ जुलाई तक जैसलमेर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven + seven =